भारत की सबसे बड़ी नदी कौन सी है Bharat ki sabse badi Nadi

by | Dec 15, 2021 | Geography | 0 comments

भारत की सबसे लंबी नदी कौन सी है Bharat ki sabse lambi Nadi

भारत की सबसे बड़ी नदी कौन सी है Bharat ki sabse badi Nadi

भारत नदियों की भूमि के रूप में प्रसिद्ध है क्योंकि देश भर में कई नदियाँ बहती हैं। भारत नदियों की भूमि है। भारत में नदियों को दो भागों में विभाजित किया गया है, अर्थात् हिमालयी नदियाँ (हिमालय से निकलने वाली नदियाँ) और प्रायद्वीपीय नदियाँ (प्रायद्वीप में उत्पन्न होने वाली नदियाँ)। हिमालयी नदियाँ बारहमासी हैं जबकि प्रायद्वीपीय नदियाँ वर्षा पर निर्भर हैं। यहां, इस लेख में, हम भारत की शीर्ष 10 सबसे लंबी नदियों के बारे में बात करेंगे।

10. तापी नदी Tapti River – 724 km

तापी नदी 724 किलोमीटर लंबी है। तापी नदी एक ऐसी नदी है जो मध्य भारत में बहती है। यह भारत की तीन में से एक नदी है, जो कि पूर्व से पश्चिम की दिशा में बहती है बाकी दो नदिया  है नर्मदा और माही। यह बैतूल जिले (सतपुड़ा रेंज) में उगती है और खंभात की खाड़ी (अरब सागर) में गिर जाती है। यह मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात से होकर गुजरती है और इसकी छह सहायक नदियाँ हैं। ताप्ती नदी की सहायक नदियाँ पूर्णा नदी, गिरना नदी, गोमई, पंजारा, पेधी और अर्ना हैं।

9. ब्रह्मपुत्र नदी Brahmaputra River – 725 km

ब्रह्मपुत्र नदी वास्तव में भारत की बाकी नदियों से बड़ी है, लेकिन यह नदी 3 देशों से होकर गुजरती है चाईना , बांग्लादेश और भारत । भारत में इसकी लंबाई 725 किलोमीटर है। यह मानसरोवर झील, तिब्बत, चीन के पास अंगसी ग्लेशियर से निकलती है। यह एकमात्र नदी है जिसका लिंग भारत में पुरुष माना जाता है, इसे चीन में यारलुंग त्संगपो नदी कहा जाता है और फिर यह अरुणाचल प्रदेश के माध्यम से भारत में प्रवेश करती है।

8. कावेरी नदी Kaveri River – 805 km

कावेरी नदी कर्नाटक और तमिलनाडु की जीवन रेखा है। इसका आरंभ कर्नाटका के उड़ाकु की पहाड़ियों से होता है ,इसलिए कर्नाटक और तमिलनाडु से बह कर बंगाल की खाड़ी में खत्म होती है। कावेरी नदी 805 किलोमीटर लंबी है। बंगाल की खाड़ी, तमिलनाडु में खाली होने से पहले, नदी बड़ी संख्या में वितरिकाओं में टूट जाती है, जिससे एक विस्तृत डेल्टा बनता है जिसे “दक्षिणी भारत का उद्यान” कहा जाता है।

7. महानदी Mahanadi River – 858 km

महानदी 2 राज्यों से होकर गुजरती है , छत्तीसगढ़ और उड़ीसा । ये पूर्व केंद्रीय भारत की सबसे लंबी और महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। महानदी की लंबाई है 858 किलोमीटर है। इसकी प्रमुख सहायक नदियाँ सिवनाथ, मंड, इब, हसदेव, ओंग, पैरी नदी, जोंक, तेलेन हैं।

6. सिंधु नदी Indus River – 1114 km

सिंधु नदी जिसे अंग्रेजी में इंडस नदी कहते हैं । एशिया की सबसे लंबी नदी है, जो कि तिब्बत से शुरू होकर भारत में प्रवेश करती है और पाकिस्तान में जाकर समाप्त होगी । भारत में यह नदी जम्मू कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र से गुजर कर पल्टिइस्तान की तरफ जाती है । इस नदी की कुल लंबाई 3180 किलोमीटर है , जिसमें से 1114 किलोमीटर भारत में रहता है। इसकी मुख्य सहायक नदियों में जानस्कर, सोन, झेलम, चिनाब, रावी, सतलुज और ब्यास शामिल हैं। सिंधु के तट पर स्थित प्रमुख शहर हैं: लेह, और स्कार्दू।

5. नर्मदा नदी Narmada River – 1312 km

नर्मदा , जो की सबसे पवित्र नदियों में से एक है। नर्मदा नदी मध्य प्रदेश में स्थित अमरकंटक की पहाड़ियों से शुरू होकर मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से गुजरती है और अरब सागर में समाप्त होती है ।  इस नदी की कुल लंबाई 1312 किलोमीटर है। मध्य प्रदेश और गुजरात राज्य में इसके विशाल योगदान के लिए इसे “मध्य प्रदेश और गुजरात की जीवन रेखा” के रूप में भी जाना जाता है। हिंदुओं के लिए नर्मदा भारत के सात स्वर्गीय जलमार्गों में से एक है; अन्य छह गंगा, यमुना, गोदावरी, सरस्वती, सिंधु और कावेरी हैं। रामायण, महाभारत और पुराणों में इसका बार-बार उल्लेख मिलता है।

4. यमुना नदी Yamuna River – 1376 km

यमुना नदी की खूबसूरती आगरा में ताजमहल के पीछे से देखी जा सकती है । यमुना नदी  यंनोत्री ग्लेशियर जो की गढ़वाल में है, से शुरू होकर उत्तराखंड, हिमाचल, हरियाणा , देश की राजधानी दिल्ली और उत्तर प्रदेश से गुजरकर बंगाल की खाड़ी में समाप्त होती है।  यमुना 1370 किलोमीटर लंबी है। हिण्डोन, शारदा, गिरी, ऋषिगंगा, हनुमान गंगा, ससुर, चम्बल, बेतवा, केन, सिंध, और टोंस यमुना की सहायक नदियाँ हैं।

3. कृष्णा नदी Krishna River – 1400 km

तीसरे स्थान पर कृष्णा नदी है, यह नदी महाराष्ट्र महाबलेश्वर से शुरू होकर बंगाल की खाड़ी में विलीन होती है । इस नदी के साथ में कई धार्मिक स्थल पड़ते हैं । कृष्णा नदी की लंबाई है 1400 किलोमिटर। यह महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्यों के लिए सिंचाई के प्रमुख स्रोतों में से एक के रूप में कार्य करती है। कृष्णा की मुख्य सहायक नदियाँ भीम, पंचगंगा, दूधगंगा, घटप्रभा, तुंगभद्रा हैं और इसके किनारे के मुख्य शहर सांगली और विजयवाड़ा हैं।

2. गोदावरी नदी Godavari River – 1465 km

दूसरे स्थान पर है, गोदावरी नदी । यह नदी महाराष्ट्र तेलंगा, आंध्र प्रदेश ,छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश ,ओडिशा ,कर्नाटका से होकर गुजरती है और आखिरकार बंगाल की खाड़ी में समाप्त है। त्रिम्भकेश्वर जो की एक मशहूर धार्मिक स्थल है, इस नदी के किनारे स्थित्त है।गोदावरी नदी कुल 1465 किलोमीटर लंबी है। नदी की प्रमुख सहायक नदियाँ पूर्णा, प्राणहिता, इंद्रावती और सबरी नदी हैं।

1. गंगा नदी The Ganges River – 2525 km

पहले पायदान पर है हम सबकी प्यारी गंगा नदी, यह नदी ना सिर्फ सबसे लंबी है बल्कि हिंदुओं की सबसे धार्मिक और महत्वपूर्ण नदी है। इसका उद्गम उत्तराखंड में गंगोत्री ग्लेशियर है और यह उत्तराखंड के देवप्रयाग में भागीरथी और अलकनंदा नदियों के संगम से शुरू होता है। यह नदी 5 राज्यो से होकर गुजरती है उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश ,बिहार ,झारखंड और पश्चिम बंगाल । इतिहास में भी गंगा ने बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। भूतकाल में कई शाही  राजधानियां जैसे कि पाटलिपुत्र,  काशी, कन्नौज और कारा गंगा नदी के किनारे स्थित थे।यह नदी  प्राचीन काल से सिंचाई में किसानों का हाथ बटाते आई है। गंगा की कुल लंबाई 2525 किलोमीटर है। गंगा की कुछ प्राथमिक सहायक नदियाँ यमुना, सोन, गोमती, घाघरा, गंडक और कोशी हैं।

FAQ

भारत की सबसे बड़ी नदी कौन सी है?

भारत की सबसे बड़ी नदी गंगा नदी है।

भारत की सबसे बड़ी नदी कौन है ?

भारत की सबसे बड़ी नदी गंगा नदी है।

दक्षिण भारत की सबसे बड़ी नदी कौन सी है ?

दक्षिण भारत की सबसे बड़ी नदी गोदावरी नदी है।

गंगा नदी कहां से निकलती है ?

गंगा नदी उत्तराखंड में गंगोत्री ग्लेशियर से निकलती है।

नर्मदा नदी का उद्गम स्थल

नर्मदा नदी मध्य प्रदेश में स्थित अमरकंटक की पहाड़ियों से शुरू होकर मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से गुजरती है और अरब सागर में समाप्त होती है ।

ब्रह्मपुत्र नदी कहां से निकलती है ?

ब्रह्मपुत्र नदी मानसरोवर झील, तिब्बत, चीन के पास अंगसी ग्लेशियर से निकलती है।

कावेरी नदी का उद्गम स्थल

कावेरी नदी आरंभ कर्नाटका के उड़ाकु की पहाड़ियों से होता है